Home Hindi राष्ट्र सेविका समिति ने दिया युवतियों को स्वयं सक्षम बनने का प्रशिक्षण

राष्ट्र सेविका समिति ने दिया युवतियों को स्वयं सक्षम बनने का प्रशिक्षण

0
SHARE

दिल्ली में राष्ट्र सेविका समिति के पथ संचलन का पुष्प वर्षा से स्वागत

नई दिल्ली। भारतीय महिलाओं के सबसे बड़े संगठन राष्ट्र सेविका समिति की लगभग 400 स्वयंसेविकाओं ने बुधवार को दिल्ली के लाजपत नगर-4 क्षेत्र में पथ संचलन किया। इसमें हर आयुवर्ग की सेविकाएं सम्मिलित थीं। जब ये पूर्ण गणवेश में कदम से कदम मिलाकर निकलीं तो इनका अनुशासन देखते ही बनता था। लगभग ढाई किलोमीटर के पथ संचलन में अनेक वाहन भी शामिल थे जिन पर भारत माता और सेविका समिति की संस्थापिका स्वर्गीय लक्ष्मीबाई केलकर ‘मौसी जी’ के चित्र लगाए गए थे। जगह-जगह उनका स्वागत पुष्प वर्षा से किया गया।

नेहरू नगर के गोवर्धन लाल त्रेहान सरस्वती बाल मंदिर, में 1 जून से 16 जून तक राष्ट्र सेविका समिति के प्रशिक्षण शिविर में प्रशिक्षण ले रही स्वयंसेविकाओं का यह पथ संचलन इसी प्रशिक्षण वर्ग का भाग है।

इस विषय में जानकारी देते हुए राष्ट्र सेविका समिति की दिल्ली प्रांत कार्यवाहिका सुनीता भाटिया जी ने बताया कि राष्ट्र सेविका समिति हर वर्ष गर्मियों की छुट्टियों में प्रशिक्षण वर्ग आयोजित करती है। इसके अंतर्गत देश भर में 15-15 दिन के शिविर आयोजित किए जाते हैं जिनमें हर आयु वर्ग की सेविकाएं भाग लेती हैं। इन वर्गों का मुख्य उद्देश्य होता है बालिकाओं और युवतियों को स्वसंरक्षण क्षम बनाना। इसीलिए इसमें उन्हें शारीरिक, मानसिक और बौद्धिक रूप से सशक्त बनने का प्रशिक्षण दिया जाता है। जिससे वे भविष्य में वो समाज को संस्कारित करके नैतिक चरित्रवान पीढ़ी समाज को कर राष्ट्र निर्माण में अपना अमूल्य योगदान दे सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here